Home Actrology And Horoscope वक्री गुरु वृश्चिक, धनु और मीन राशि पर मेहरबान, भाग्य सूर्य की...

वक्री गुरु वृश्चिक, धनु और मीन राशि पर मेहरबान, भाग्य सूर्य की तरह 14 सितंबर तक चमकेगा

Jupiter

ज्योतिष शास्त्र में देवगुरु बृहस्पति को ज्ञान, शिक्षक, संतान, बड़े भाई, शिक्षा, धार्मिक कार्य, पवित्र स्थान, धन, दान, पुण्य और वृद्धि आदि का कारक ग्रह कहा गया है। बृहस्पति ग्रह 27 नक्षत्र पुनर्वसु का स्वामी है। , विशाखा, और पूर्वा भाद्रपद। बृहस्पति के शुभ होने पर व्यक्ति को सभी प्रकार के सुखों का अनुभव होता है। इस समय देवगुरु बृहस्पति वक्री अवस्था में चल रहे हैं। देवगुरु बृहस्पति 14 सितंबर तक वक्री अवस्था में रहेगा। देवगुरु वृश्चिक, धनु और मीन राशि पर वक्री अवस्था में रहकर विशेष कृपा बरसा रहे हैं। इन राशियों के लिए 14 सितंबर तक का समय किसी वरदान से कम नहीं है। आइए जानते हैं 14 सितंबर 2021 तक कैसी रहेगी वृश्चिक, धनु और मीन राशि की स्थिति…

  • लाभ होगा।
  • धैर्य से काम लेंगे तो सफलता अवश्य मिलेगी।
  • कार्यक्षेत्र में सभी आपकी प्रशंसा करेंगे।
  • व्यापार में लाभ होगा।
  • जीवनसाथी के साथ समय बिताएं।
  • धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में भाग लेने का अवसर मिलेगा।
  • स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से निजात मिल सकती है।
  • शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए यह समय किसी वरदान से कम नहीं है।
  • शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी।
  • नौकरी और व्यापार में तरक्की होगी।
  • मेहनत करने से आपको काम में सफलता जरूर मिलेगी।
  • परिवार के सदस्यों के साथ समय बिताएं।
  • दाम्पत्य जीवन में सुख का अनुभव करेंगे।
Exit mobile version