Latest Posts

आज से 5 दिन के लिए खुला सबरीमाला मंदिर, रोजाना सिर्फ 5000 श्रद्धालुओं को दर्शन की इजाजत

केरल के सबरीमाला में भगवान अयप्पा मंदिर 17 जुलाई से 21 जुलाई तक मासिक अनुष्ठानों के पांच दिनों के लिए खोला जा रहा है। यात्रा करने के इच्छुक लोगों को पिछले 48 घंटे की आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट या कोविड-19 वैक्सीन के दोनों डोज की रिपोर्ट दिखानी होगी। इसके बाद ही उन्हें दर्शन की अनुमति दी जाएगी।

भक्तों को पहले ऑनलाइन बुकिंग करनी होगी और प्रतिदिन केवल 5,000 भक्तों को दर्शन के लिए अनुमति दी जाएगी। राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते कम श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जा रहा है. सबरीमाला मंदिर को कोरोना वायरस के कारण बंद कर दिया गया था मंदिर के पुजारियों और अधिकारियों को सरकार द्वारा जारी किए गए कोरोना नियमों का पालन करना होगा। सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक श्रद्धालुओं को फेस मास्क, सोशल डिस्टेंस जैसे नियमों का पालन करना होगा.

21 जुलाई को मासिक अनुष्ठान पूरा होने पर सबरीमाला मंदिर फिर से बंद कर दिया जाएगा। हालांकि सबरीमाला मंदिर हर महीने मासिक अनुष्ठान के लिए खोला गया है, लेकिन भक्तों को प्रवेश की अनुमति नहीं थी। सबरीमाला मंदिर भारत के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यहां हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु भगवान अय्यप्पन के दर्शन करने आते हैं। सबरीमाला मंदिर का नाम रामायण में वर्णित शबरी के नाम पर रखा गया है। मंदिर के चारों ओर 18 पहाड़ मंदिर की सुंदरता को और बढ़ाते हैं।

सबरीमाला मंदिर लगभग 800 साल पुराना माना जाता है। भगवान अयप्पा एक ब्रह्मचारी थे, जिसके कारण 10 से 50 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति थी। लेकिन 2018 में, सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में 10-50 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं पर प्रतिबंध लगाने वाले कानून को रद्द कर दिया।

Also Read-  उत्तराखंड में सुबह सुबह महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.6 तीव्रता

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss