Home PM Narendra Modi पीएम मोदी ने ली पदा अधिकारियों की बैठक, अब 10 राज्यों के...

पीएम मोदी ने ली पदा अधिकारियों की बैठक, अब 10 राज्यों के सीएम के साथ करेंगे सोच विचार

PM_Narendra_Modi_

कोरोना के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को कई महत्वपूर्ण बैठकों का नेतृत्व कर रहे हैं। पीएम मोदी ने सबसे पहले अधिकारियों के साथ देश के हालात पर चर्चा की और ताजा स्थिति को जाना। इसके अलावा, उन्होंने दस राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ भी चर्चा की।

कोरोना वायरस के कारण बेकाबू स्थिति, स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा जाने और रोगियों के भटकने के कारण आज देश में कई महत्वपूर्ण बैठकें होनी हैं। कोरोना के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को कई महत्वपूर्ण बैठकों का नेतृत्व कर रहे हैं। पीएम मोदी ने सबसे पहले अधिकारियों के साथ देश के हालात पर चर्चा की और ताजा हालात को जाना।

अधिकारियों से पीएम मोदी ने क्या नवीनतम कदम उठाए हैं, इस पर एक रिपोर्ट प्राप्त करें। ऑक्सीजन संकट के बारे में भी चर्चा की। अधिकारियों के साथ बैठक के बाद, दस राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक हुई।

कोरोना संकट पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की बैठकें:

• देश में कोविद की स्थिति पर अधिकारियों के साथ बैठक।

• प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा।

• ऑक्सीजन निर्माताओं के साथ महत्वपूर्ण बैठक।

इन दस राज्यों के मुख्यमंत्री पीएम मोदी के साथ एक बैठक में शामिल थे।

1) महाराष्ट्र

2) उत्तर प्रदेश

3) कर्नाटक

4) केरल

5) छत्तीसगढ़

6) राजस्थान

7) दिल्ली

8) मध्य प्रदेश

9) गुजरात

10) तमिलनाडु

ऑक्सीजन की आपूर्ति चुनौती सबसे बड़ा संकट

देश के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की समस्या है। दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, गुजरात, राजस्थान सहित कई राज्य ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। गुरुवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई मंत्रालयों के अधिकारियों के साथ एक बैठक की, जिसमें उन्होंने ऑक्सीजन की आपूर्ति में तेजी लाने का निर्देश दिया।

पीएम मोदी का निर्देश था कि ऑक्सीजन का पर्याप्त उत्पादन हो रहा है, लेकिन आपूर्ति में अड़चनें हैं, उन्हें दूर किया जाना चाहिए। जो लोग वर्तमान में कालाबाजारी कर रहे हैं, उन पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

कोरोना के कारण देश में हालात बदतर हो रहे हैं

भारत इस समय दुनिया में कोरोना संकट का केंद्र बन गया है। पिछले दो दिनों में, भारत में 6 लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। गुरुवार को 3.15 लाख कोरोना मामले सामने आए, जबकि शुक्रवार को यह आंकड़ा 3.30 लाख तक पहुंच गया। लगातार दूसरे दिन 2 हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। देश के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन, बेड का संकट है, जबकि जीवनरक्षक दवा रेमदेसवीर भी उपलब्ध नहीं है।

Exit mobile version