Home Dharma यह काम साल के आखिरी शनिवार को करें, साथ ही शनिदेव, हनुमान...

यह काम साल के आखिरी शनिवार को करें, साथ ही शनिदेव, हनुमान जी का आशीर्वाद

2018_3image_11_31_321457840hanuman-jayantishani.jp-ll

26 दिसंबर 2020 का आखिरी शनिवार है, धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, शनिवार को शनि देव की पूजा करने से शनि के प्रकोप से बचा जा सकता है। शनि के बुरे प्रभावों के कारण व्यक्ति का जीवन बुरी तरह प्रभावित हो जाता है। आज हम आपको कुछ आसान उपाय बताते हैं, जिन्हें करने से शनि आपको प्रभावित नहीं करेगा।

शनि मंदिर जाएँ

वर्ष के इस अंतिम शनिवार को, शनि देव के किसी भी मंदिर में जाएं और शनि देव से प्रार्थना करें, और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, शनि देव को तेल अर्पित करने से भी शनि देव प्रसन्न होते हैं और उनकी नजर उस व्यक्ति पर नहीं पड़ती।

कर्म के देवता कर्म के अनुसार न्याय करते हैं

शनिदेव को कर्मों का दाता भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि शनि व्यक्ति को कर्मों के अनुसार फल देते हैं। पिछले शनिवार को बेहतर कार्यों के लिए प्रतिज्ञा करें।

हनुमान जी की पूजा करें और हनुमान जी के मंदिर जाएँ

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, मंगलवार और शनिवार संकटमोचन हनुमान जी का है। अगर आप भी शनि की खराब स्थिति का सामना कर रहे हैं तो हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी की पूजा करने से सभी प्रकार के दुष्प्रभाव दूर होते हैं और जीवन में हर चीज पहले से बेहतर हो जाती है। हनुमान जी इस कलयुग में जगत देव हैं और एक भगवान हैं जो अपने भक्तों पर बहुत जल्द प्रसन्न होते हैं। अगली स्लाइड्स में जानिए

कैसे करें हनुमान को प्रसन्न

हनुमान जी एक ऐसे देवता हैं जो अपने भक्तों पर शीघ्र प्रसन्न होते हैं। यदि आप केवल राम का नाम सुनते हैं, तो हनुमान जी आपसे अवश्य प्रसन्न होंगे।

रोजाना हनुमान चालीसा पढ़ें। हनुमान जी के नियमित पाठ से न केवल आपको शनि दशा से मुक्ति मिलेगी बल्कि सभी प्रकार की समस्याएं दूर होंगी।

संभव हो तो शनिवार को सुंदरकांड का पाठ भी करना चाहिए। सुंदरकांड का पाठ करने से विशेष लाभ मिलता है।

Exit mobile version