मुठभेड़ मे मारे गए 15 आतंकवादी, 5 जवान भी हुए शहीद, पीएम मोदी-शाह ने जताया दुख

Indian-Army-Soldier

सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में घायल हुए 24 जवानों को बीजापुर अस्पताल लाया गया है। वहीं, सात जवानों को इलाज के लिए रायपुर भेजा गया है। कोबरा (coBRA) कमांडो के एक जवान का शव बरामद किया गया है, जिसे एयरलिफ्ट करके जगदलपुर भेज दिया गया है।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में सुरक्षा बलों के 21 जवान अब भी लापता हैं। सैनिकों की तलाश में आज सुबह फिर से एक खोज अभियान शुरू किया गया है। सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में घायल हुए 24 जवानों को बीजापुर अस्पताल लाया गया है। वहीं, सात जवानों को इलाज के लिए रायपुर भेजा गया है। कोबरा (coBRA) कमांडो के एक जवान का शव बरामद किया गया है, जिसे एयरलिफ्ट करके जगदलपुर भेज दिया गया है। सुरक्षा बलों का दावा है कि बीजापुर मुठभेड़ में 15 से अधिक नक्सली मारे गए हैं।

शनिवार को पहले दी गई जानकारी के मुताबिक, मुठभेड़ में 5 जवान शहीद हो गए। जिसमें 3 जवान DRG के और 2 जवान CRPF के हैं। वहीं, मुठभेड़ में 9 नक्सली भी मारे गए। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने कोबरा बटालियन के एक जवान की शहादत के बारे में बताया था। डीआईजी (नक्सल ऑपरेशन) ओपी पॉल ने घटना के बारे में कहा कि पांच सैनिक शहीद हो गए जबकि 12 अन्य जवान घायल हो गए। मुठभेड़ स्थल से एक महिला नक्सली का शव भी घायल हो गया। बरामद किया है।

डीजी सीआरपीएफ ने अज़ात को सूचित किया है कि सुरक्षा बलों द्वारा अब तक 12 से 15 नक्सलियों को ढेर किया गया है। 20 नक्सली घायल बताए जा रहे हैं। नक्सलियों के खिलाफ बड़ा अभियान जारी है।

Also Read-  किसान आंदोलन का आज 74 वा दिन किसान ने की टिकी सीमा पर आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- मोदी सरकार सिर्फ तारीख पर तारीख दे रही है
Indian-Army-Soldier

नक्सली एक IED प्लांट स्थापित करने की प्रक्रिया में थे

आजतक को मिली खुफिया जानकारी के मुताबिक, नक्सली पिछले कुछ दिनों से लगातार बीजापुर, सुकमा, कांकेर में डेरा डाले हुए थे। जिनकी संख्या 200 से 300 बताई जा रही है। सुरक्षा बलों को रिपोर्ट मिली थी कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के कई डिवीजन कमांडर कैंप कर रहे हैं। खुफिया रिपोर्ट में यह भी पता चला है कि नक्सली बीजापुर, छत्तीसगढ़ में एक IED प्लांट स्थापित करने के लिए एक बड़ी योजना बना रहे हैं।

CRPF DG ने छत्तीसगढ़ का दौरा किया

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले के बाद डीजी सीआरपीएफ कुलदीप सिंह छत्तीसगढ़ के दौरे पर जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, डीजी सीआरपीएफ स्थिति का जायजा लेने के लिए पहुंच रहे हैं। बीजापुर में ऑपरेशन के बाद, गृह मंत्रालय ने डीजी सीआरपीएफ को स्थान पर जाने का निर्देश दिया। डीजी सीआरपीएफ को बीजापुर भेजने के साथ, गृह मंत्री अमित शाह ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री से भी बात की है और सैनिकों के बारे में स्थिति से अवगत हैं।

पीएम मोदी ने जताई संवेदना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों की शहादत पर दुख जताया है। पीएम मोदी ने कहा कि सैनिकों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। एक ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा, “छत्तीसगढ़ में शहीद हुए जवानों के परिवारों के साथ मेरी संवेदना है। वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना।”

मुठभेड़ के बाद बुलाई गई आपात बैठक

सुरक्षा बलों के शीर्ष अधिकारियों की एक आपात बैठक नक्सलियों के साथ मुठभेड़ की घटना के बाद बुलाई गई थी। डीजीपी डीएम अवस्थी, स्पेशल डीजी (एंटी-नक्सल ऑपरेशन) अशोक जुनेजा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में शामिल हुए। बैठक रायपुर में हुई थी। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, डीएम अवस्थी ने कहा कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में तरारेम की घटना में इस घटना में पांच सैनिक मारे गए और 10 सैनिक घायल हो गए।

Also Read-  दुनिया में भारतीय नृत्य करने वाले बेहतरीन नर्तक ने 70 देशों में प्रदर्शन किया