Latest Posts

नही चलेगी चीन-पाक की चाल, मिसाइलों का सामना करने के लिए रॉकेट फोर्स बना रहा भारत

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत ने बुधवार को कहा कि भारत ने हवाई क्षेत्र में अपनी ताकत को मजबूत करना शुरू कर दिया है और इसी के तहत देश की रॉकेट फोर्स तैयार होने की सोच रही है.

एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रावत ने पाकिस्तान को चीन का छद्म करार दिया और कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में छद्म युद्ध जारी रखेगा और वह पंजाब और देश के अन्य हिस्सों में भी समस्या पैदा करने की कोशिश कर रहा है।

बिपिन रावत

उत्तरी सीमाओं पर चीन के आक्रामक रुख को रेखांकित करते हुए मुख्य रक्षा अध्यक्ष ने कहा, “चाहे वह प्रत्यक्ष आक्रमण के माध्यम से हो या प्रौद्योगिकी के माध्यम से, हमें हर स्थिति के लिए तैयार रहना होगा और यह तैयारी तभी हो सकती है जब हम मिलकर काम करें।” ‘ उन्होंने कहा कि कूटनीति, सूचना, सैन्य और आर्थिक कौशल के बाद प्रौद्योगिकी को राष्ट्रीय शक्ति का पांचवां स्तंभ माना जाना चाहिए।

भारत की वायु शक्ति को मजबूत करने के कदमों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “हम एक रॉकेट फोर्स बनाने पर विचार कर रहे हैं।” हालांकि उन्होंने इस योजना के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी।

उन्होंने अफगानिस्तान के हालात पर टिप्पणी करते हुए कहा कि किसी ने कभी नहीं सोचा था कि तालिबान इतनी तेजी से देश पर कब्जा कर लेगा। उन्होंने कहा कि आगे क्या होगा यह तो वक्त ही बताएगा।

इस मौके पर पूर्व रक्षा सचिव एनएन वोहरा ने चीन के साथ 1962 के युद्ध पर हेंडरसन ब्रूक्स की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की अनुमति मांगी।

Also Read-  गुरनाम सिंह चढूनी की गिरफ्तारी पर किसानों ने किया शंभू टोल प्लाजा ब्लॉक, देर रात हंगामे के बाद छोड़ा

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss