Latest Posts

पीएम मोदी के बाद कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अजमेर शरीफ दरगाह पर चादर भेजी

दिल्ली में वायनाड सीट से कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने 809 वें उर्स के मौके पर सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की अजमेर शरीफ दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए हामी भरी। राहुल गांधी ने यह चादर कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष नदीम जावेद को सौंप दी। पत्रक सौंपने के दौरान कई कांग्रेस नेता भी मौजूद थे।

इससे पहले सुबह, केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अजमेर शरीफ दरगाह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से ‘चादर’ भेंट की। चादर पेश करने के बाद नकवी ने कहा कि सहिष्णुता और सद्भाव भारत का डीएनए है और कोई भी अपने देश की इस गौरवशाली विरासत को खराब या नष्ट नहीं कर सकता है।

rahul-gandhi

इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री द्वारा भेजे गए संदेश को भी पढ़ा। अपने संदेश में, प्रधानमंत्री ने वार्षिक उर्स के अवसर पर भारत और विदेशों में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के अनुयायियों को बधाई दी। प्रधानमंत्री मोदी ने संदेश में कहा कि ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के 809 वें उर्स के अवसर पर, दुनिया भर में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के अनुयायियों को शुभकामनाएं और शुभकामनाएं।

यह वार्षिक उत्सव सामाजिक एकता और भाईचारे का एक सुंदर उदाहरण है। विभिन्न धर्मों, संप्रदायों और उनसे जुड़ी मान्यताओं के लोगों का सामंजस्यपूर्ण और सौहार्दपूर्ण आचरण हमारे देश की एक शानदार विरासत है। हमारे देश के विभिन्न संतों, पीरों और फकीरों ने इस धरोहर को बचाने और मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। शांति और सद्भाव के उनके शाश्वत संदेश ने हमेशा हमारी सामाजिक और सांस्कृतिक विरासत को समृद्ध किया है।

Also Read-  उत्तराखंड जा रहे हैं तो इन बातो का रखिए खास ध्यान, रेलवे ने दी चेतावनी

प्रधान मंत्री ने आगे कहा कि ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती, जिन्होंने अपने सूफी विचारों के साथ समाज में एक अमिट छाप छोड़ी है, हमारी महान आध्यात्मिक परंपराओं के आदर्श प्रतीक हैं। प्रेम, एकता, सेवा और सद्भाव की भावना को बढ़ावा देना, गरीब नवाज के मूल्यों और विचारों को हमेशा मानवता को प्रेरित करेगा। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के सालाना उर्स पर, मैं अजमेर शरीफ दरगाह पर एक ‘चादर’ भेजता हूं और देश के लोगों की सुख, समृद्धि और समृद्धि के लिए प्रार्थना करता हूं।

इस दौरान, नकवी ने दरगाह परिसर में 88 शौचालयों के एक नवनिर्मित ब्लॉक का भी उद्घाटन किया, जिससे भक्तों और तीर्थयात्रियों को लाभ होगा। इसके बाद, उन्होंने लगभग 500 महिला तीर्थयात्रियों के लिए एक रैन बसेरा का भी उद्घाटन किया। इन सुविधाओं का निर्माण पहली बार दरगाह परिसर में किया गया है। नकवी ने दरगाह के गेट नंबर 5 और दरगाह परिसर में गेस्ट हाउस की चौथी मंजिल का भी उद्घाटन किया।

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss